हर वक़्त तेरी यादो में रहने लगा हूँ

हर वक़्त तेरी यादो में रहने लगा हूँ सपनो में हर पल तेरे खोने लगा हूँ कर चूका हूँ इजहार अपनी मोह्हबत का तुमसे अब बस वफा

इन नजरो से बयाँ होती है मोह्हबत यार की

इन नजरो से बयाँ होती है मोह्हबत यार की बस एक बार वो देखने की गुस्ताखी तो करे …..BY SPT

Jhalkta tha pyar dil mein har pal unke liye

Jhalkta tha pyar dil mein har pal unke liye Aur vo nazre churate rhe na jane kiske liye Kya yahi  hai sila mohhabat ka mere liye

Apni palko mein chupa ke, jab se tera deedar kiya

Apni palko mein chupa ke, jab se tera deedar kiya Tu nahi samjhegi kabhi, kitna tujhe pyar kiya Har dafa koshish ki, lafjo se bta doo

Socha Kisi Apney Se Baat Karein

Socha Kisi Apney Se Baat Karein, Apney Kisi Khaas Ko Yaad Karein, Kiya Jo Humne Faisla Holi Mubaraq Kehne Ka, Dil Ne Kaha Kyun Na Aap

सुख में भी तू संगी ना थी..ना हुई दुःख में तू भागी

सुख में भी तू संगी ना थी..ना हुई दुःख में तू भागी फिर भी ना जाने क्यों दिल में , मोह्हबत सिर्फ तेरे लिए जागी …..BY